WordPress.com और WordPress.org में क्या अंतर है?

अगर आप भी एक वेबसाइट बनाकर अपना Blogging करियर शुरू करना चाहते है और WordPress.com और WordPress.org के बिच Confuse हो चुके है, तो इस आर्टिकल को जरूर पढ़े | आज मैं बताऊंगा कि इन दोनों Platform में क्या अंतर है और आपको अपनी जरूरतों के अनुसार किस प्लेटफार्म पर अपना ब्लॉग शुरू करना चाहिए |

इन दोनों प्लेटफार्म का नाम भले ही आपको एक जैसा लगे पर flexibility और customization के मामले में इन दोनों में काफी अंतर है | एक तरफ self hosted WordPress.org वेबसाइट में पूरा control आपके पास होता है तो वहीं Free WordPress.com वेबसाइट पर आप बिना hosting, backup और optimization की चिंता किए अपने वेबसाइट पर काम कर सकते है |

Also Read: DMCA क्या है? DMCA Badge लगाकर Content चोरी होने से कैसे बचाएं?

WordPress.com vs WordPress.org in Hindi

WordPress.org vs WordPress.com in Hindi

इन दोनों प्लेटफार्म में बिच अंतर बताने से पहले आपको WordPress.org और WordPress.com के pros और cons जानना जरुरी है |

WordPress.org

WordPress.org एक open source और 100% free वेबसाइट बिल्डिंग प्लेटफार्म है | आपने आज तक WordPress की जितनी तारीफ़ सुनी है वो WordPress.org की ही है | इस प्लेटफार्म पर कोई भी इंसान फ्री में वेबसाइट बना सकता है | आपको जरुरत पड़ेगी तो सिर्फ एक domain और hosting की |

WordPress.org के फायदे

  • यह free है और काफी आसान है |
  • WordPress.org पर वेबसाइट बनाने से पूरा control आपके पास होता है | आप अपने अनुसार Website को customize कर सकते, plugins इनस्टॉल कर सकते है, SEO कर सकते है, आदि | WordPress.org की इस खूबी की वजह से की यह सबसे ज्यादा पॉपुलर है |
  • इस platform पर वेबसाइट बनाने से website और उसके Data के मालिक आप होंगे, और अगर आप legal content डाले तो कोई भी व्यक्ति यह बोलकर आपका वेबसाइट बंद नहीं कर सकता कि आपने किसी नियम को तोड़ा है |
  • आप बिना Ads के या Ads के साथ या अपने वेबसाइट को चला सकते है | आपके पास पूरा नियंत्रण होगा |
  • WordPress.org पर बने website को आप अपने Ads लगाकर, प्रोडक्ट Affilate से, Sponsored post, आदि कई तरीको से monetize कर सकते है | यहाँ आपको किसी के साथ revenue शेयर करने की जरुरत नहीं पड़ती |
  • इस प्लेटफार्म पर आपको कई free और paid themes मिलते है, जिनकी मदद से आप खूबसूरत वेबसाइट बना सकते है | इसके साथ वेबसाइट पर लगभग सभी छोटे-बड़े features add करने के लिए लाखों free व paid plugins उपलब्ध है |
  • यहाँ आप Google Analytics जैसे पावरफुल टूल integrate कर अपनी वेबसाइट traffic को बेहतर तरीके से Analyse कर सकते है |
  • WordPress.org पावरफुल होने के साथ काफी flexible भी है | इस प्लेटफार्म पर आप अपना Online store बनाकर खुद की चीज़े ऑनलाइन बेच सकते है, payment gateway integrate कर ऑनलाइन पेमेंट ले सकते है, आदि |

Also Read: Truecaller कैसे काम करता है? – पूरी जानकारी

WordPress.org के कुछ नुकशान

  • इस प्लेटफार्म पर वेबसाइट शुरू करने के लिए आपको सबसे पहले hosting की जरुरत पड़ेगी | Hosting का मतलब होता है इंटरनेट से जुड़ा वह हिस्सा जहाँ आपके वेबसाइट की फाइल स्टोर रहेगी | आप शुरुआती तौर पर बेसिक hosting प्लान ले सकते है और फिर समय के साथ जब आपके वेबसाइट पर traffic बढ़े और revenue आने लगे तो इसे upgrade कर ले |
  • यहाँ आपको अपने वेबसाइट की backup, update, maintenance, आदि का ध्यान खुद रखना पड़ेगा | हालांकि self hosted WordPress site पर plugins के इस्तेमाल से यह सारे काम आसानी से हो सकता है |

WordPress.com

WordPress.org vs WordPress.com

WordPress.com एक free वेबसाइट building और hosting सर्विस है जिसकी शुरुआत WordPress के को-फाउंडर Matt Mullenweg ने की थी | इस प्लेटफार्म पर भले ही आप free वेबसाइट बना सकते है, पर यहाँ आपको कई तरह की limitations मिलेंगी और इन्हें दूर करने के लिए आपको कोई paid plan लेना होगा |

WordPress.com पर फिलाल 4 plans उपलब्ध है – free, Personal (₹200 प्रति माह), Premium (₹350 प्रति माह) और Business (₹800 प्रति माह).

WordPress.com के फायदे

  • WordPress.com एक Free और easy प्लेटफार्म है अगर आप सिर्फ अपने शौक को पूरा करने के लिए Blogging करना चाहते है, और पैसा कामना आपका लक्ष्य नहीं है | WordPress.com आपको वेबसाइट के फाइल्स स्टोर करने के लिए 3GB तक की free स्टोरेज देती है |
  • यहाँ आपको website के update, backup, आदि की टेंशन लेने की जरुरत नहीं होती | यह सारा काम WordPress.com की टीम संभालती है |

WordPress.com के नुकशान

  • यहाँ आपको बहुत कम themes और customization के options मिलते है | अगर आप एक free user है तो आप लिमिटेड free themes को use कर पाएंगे | वहीं premium themes केवल premium और business यूजर्स के लिए उपलब्ध है | इसके बाद आप Custom CSS का इस्तेमाल भी कर पाएंगे |
  • WordPress.com की सभी वेबसाइट में JetPack plugin पहले से enabled होता है | इसके अलावा आप कोई भी दूसरा plugin install या अपलोड नहीं कर सकते | business यूजर्स को कंपनी ने कुछ extra plugins इनस्टॉल करने की सुविधा दी है |
  • अगर आपने इस प्लेटफार्म पर free वेबसाइट बनाई है तो ध्यान रखे कि आपकी वेबसाइट पर कंपनी अपनी Ads दिखाएंगे और इसका कोई फायदा आपको नहीं मिलेगा | उन Ads को remove करने के लिए आपको Paid प्लान लेना होगा |
  • यहाँ आप अपने website पर Ads नहीं लगा सकते | अगर आप वेबसाइट पर बहुत ज्यादा traffic है तो आप कंपनी के Advertisiing प्लेटफार्म Word Ads के लिए apply कर सकते है | Paid मेंबर के लिए यह सुविधा शुरू से ही उपलब्ध होती है |
  • यहाँ सिर्फ business मेंबर को Google Analytics अपने वेबसाइट में add करने की इज़ाज़त है |
  • अगर आप WordPress.com के terms and conditions फॉलो नहीं करते तो वे आपकी वेबसाइट कभी भी delete कर सकते है |
  • इस प्लेटफार्म पर बनी सभी free वेबसाइट के footer में आपको Powered by WordPress.com
    लिंक देखने को मिलेगी | इसे remove करने के लिए आपको business plan लेना होगा |
  • WordPress.com पर आप e-commerce या membership जैसी high-customization वेबसाइट नहीं बना सकती |

इसके साथ और भी कई तरह के limitations है जो आपको यह सर्विस इस्तेमाल करने के दौरान समझ आएगी | कुल मिलाकर हम कह सकते है इस platform पर आपको free, personal और premium पैकेज के अंतर्गत भी सभी features नहीं मिलते | अगर आप अपने वेबसाइट पर ज्यादा control और कुछ Advanced options चाहते है तो आपको कम से कम business plan लेना ही होगा |

निष्कर्ष: WordPress.com और WordPress.org में कौन बेहतर है?

मुझे उम्मीद में ऊपर बताए गए सभी बातों का ध्यान कर आप आसानी से निर्णय ले सकते है कि कौन सा प्लेटफार्म आपके लिए सही है | अगर आप blogging केवल अपने writing skills को improve करने के लिए या फिर शौक के लिए कर रहे है, तो WordPress.com से शुरू करें | वहीं अगर आप अपने blog को एक business की तरह देख रहे है तो self hosted WordPress.org आपके लिए perfect रहेगा | अगर आपके मन में अभी भी कोई सवाल है तो निचे comment सेक्शन में जरूर पूछे |

4 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *