Google ने सालों पहले बंद किया Rel=prev/next को सपोर्ट करना

Google अपने search engine को और भी बेहतर बनाने के लिए निरंतर इसके Algorithm में बदलाव और सुधार करता रहता है | अगर आप Online Search या SEO से जुड़े हुए है, तो आपने भी अपने website में इन changes का प्रभाव देखा होगा |

ताज़ा खबरों के अनुसार गूगल ने rel=prev और rel=next को सालों पहले सपोर्ट करना बंद कर दिया है | इस बात की जानकारी John Mueller ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए दी | उन्होंने कहा कि पिछले कुछ सालों में उन्होंने notice किया है कि लोग अब rel-next/prev का इस्तेमाल नहीं कर रहे है | इसलिए Google ने इसके documentations को भी remove करने का फैसला किया है |

ये भी पढ़ें: Dofollow और Nofollow Links क्या है? इन दोनों में अंतर है?

Rel=prev/next Markup क्या है?

web page indexing

गूगल ने हमेशा से paginated web pages (एक page को कई अन्य pages में divide करना) publish करते वक़्त rel=prev और rel=next markup ऐड करने की सलाह दी थी | इस markup से Google को पता चलता था कि यह सभी pages एक ही page के part है |

इसके साथ Rel=prev/next markup गूगल को यह भी सिग्नल भेजता था कि इस series में कौन सा page पहला, दूसरा, तीसरा आदि है | इस markup का सपोर्ट अचानक से बंद होने पर community में काफी लोग उलझन में है कि अब paginated web pages का भविष्य कैसा होगा |

Single page की तरह ही paginated web pages की Indexing होगी

Mueller के अनुसार, Google अब crawlers के आधार पर content को index करती है | समय के साथ पता चला है कि publishers और webmasters बिना rel=prev/next के भी Google को प्रयाप्त सिग्नल भेज रहे है | इसलिए अब paginated content भी single page content की तरह ही index किया जाता है |

हालांकि Google ने सभी को single-page content पब्लिश करने की सलाह दी है, पर search engine को multi-page कंटेंट से भी कोई आपत्ति नहीं है | इसके बावजूद एक्सपर्ट्स अभी तक multi-pages कंटेंट indexing को लेकर दुविधा में फंसे हुए है |

ये भी पढ़ें: Ads.txt क्या होता है? Ads.txt File कैसे Add करें? इसके क्या फायदे है?

ख़ैर Google के इस अपडेट के बारे में आपकी क्या सोच है? निचे कमेंट में जरूर शेयर करें और Blogging, SEO, WordPress, Online Money Making, आदि से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए We Are Hindi के साथ जुड़े रहें |

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *