Dofollow और Nofollow Links क्या है? इन दोनों में अंतर है?

Blogging शुरू करने वाला हर एक व्यक्ति कुछ articles पोस्ट करने के बाद SEO के बारे में सोचता है। अब हालांकि SEO के भी कई प्रकार होते है, पर ज्यादातर लोग सिर्फ Backlinks पर ज्यादा फोकस करते है। आज भी कई सारे नए Bloggers गूगल पर वेबसाइट search करके comments में backlinks बनाते है। इस प्रक्रिया में उनकी मुलाकात Dofollow और Nofollow links से होती है। एक ब्लॉगर के रूप में  आपको इन दोनों types के links की जानकारी होना बहुत जरुरी है।

अगर आपने भी अपना Blogging करियर  अभी शुरू किया है और आप Search Engine Optimization (SEO) और Link Building के बारे में सिख रहे है तो आपको Dofollow और Nofollow लिंक्स के बारे में जानना काफी जरुरी है।

ये भी पढ़े:

पहला कदम:

dofollow aur nofollow links kya hai

किसी भी website का SEO करने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए। मान लीजिए आपने एक नया blog शुरू किया, इस बात की जानकारी आपने Facebook और WhatsApp के जरिए अपने दोस्तों को दे दी, पर Google को इस बात का पता कैसे चलेगा कि Internet पर ऐसी भी कोई वेबसाइट है।

इसलिए सबसे पहले आपको अपने Website का XML Sitemap generate कर Google को submit करना बहुत जरुरी है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि XML Sitemap में आपके ब्लॉग के सभी pages और posts की link मौजूद होती है। इसे आप Yoast Seo plugin की मदद से आसानी से generate कर सकते है। जब आप Google Search Console में XML Sitemap सबमिट करेंगे, तो Google bots आपके वेबसाइट पर आएंगे, आपके pages को crawl करेंगे और उन्हें Google अपने डेटाबेस में index कर लेगा।

इसके बाद जब भी कोई यूजर Google पर आपके वेबसाइट और उसमे मौजूद posts से जुड़ी कोई चीज़े search करेगा, गूगल अपने डेटाबेस से आपका वेबसाइट या ब्लॉग उसे show करेगा।

Dofollow और Nofollow लिंक क्या होता है?

जब भी कोई वेबसाइट अपने किसी article या page पर आपके वेबसाइट को link देता है, तो search engine bots उस लिंक को follow करते है। इससे आपके website को Link Juice मिलता है। इसके साथ वेबसाइट की ranking और domain authority भी improve होती है।

By default सभी links dofollow होते है और इंसानो के साथ search engine bots भी इन्हें follow कर पाते है। Dofollow link के रूप में आपको एक backlink भी मिलती है। Dofollow link का उदाहरण:

<a href="https://www.wearehindi.com">We Are Hindi</a>

Nofollow links को search engine bots follow नहीं करते। इन्हें केवल इंसान ही follow कर पाते है। हालांकि Nofollow links से आपके आर्टिकल या वेबसाइट को कुछ खास फायदा नहीं होता, पर यह दोनों links आपके website पर नियमित मात्रा में होना जरुरी है।  किसी भी link को nofollow बनाने के लिए उसमे rel=”nofollow” add किया जाता है। Nofollow link का उदाहरण:

<a href="https://www.wearehindi.com" rel="nofollow">We Are Hindi</a>

कोई लिंक Dofollow है या NoFollow कैसे Check करें?

अगर आपने browser में कोई website ओपन कर रखी है और आप किसी लिंक को check करना चाहते है, तो उसपर right-click करें और Inspect element सेलेक्ट करें। इससे उस website का HTML code निचे एक window में खुल जाएगा। अगर वह link nofollow है, तो आपको लिंक के साथ rel=nofollow भी देखने को मिलेगा। Dofollow link में rel tag नहीं होता है।

अगर आप किसी page के सभी external links को nofollow करना चाहते है, तो इस तरह से Page के header में meta robots का इस्तेमाल करें।

<meta name=”robots” content=”nofollow”>

इससे search engine bots पेज पर मौजूद links को follow नहीं करेंगे। अगर आप Yoast Seo Plugin का use करते है तो post के निचे आपको इसका option भी मिल जाएगा।

nofollow external links in yoast

अगर किसी दूसरी वेबसाइट ने इस process से अपने article पर मौजूद links को nofollow किया है, तो आप इस चीज़ का पता link को inspect कर नहीं लगा सकते। ऐसे में आपको उस webpage पर right-click कर options में “View page source” choose करना होगा। इसके बाद दूसरे tab में उस website का source code ओपन हो जाएगा। वहां आप CTRL+F प्रेस कर “robots” सर्च करें। आपको उस website के header में ऊपर बताया गया meta tag मिलेगा।

nofollow link kya hota hai

Dofollow और Nofollow links का Use कब और कहाँ करना चाहिए?

Dofollow

  • अगर आपको पता है कि जिस website को आप link कर रहे है वो एक High-Quality Authoritative वेबसाइट है।
  • High Domain Authority वाली websites को।
  • अगर आपने किसी के website से content copy किया है तो source mention करने के लिए।
  • Same Niche के blogs को लिंक करने के लिए।

Nofollow

  • Unrelated content को लिंक करने के लिए। जैसे मान लीजिए आपकी वेबसाइट Health पर है और आप Fashion वेबसाइट की लिंक देना चाहते है।
  • अगर किसी reason से आपको Betting, Gambling, etc आदि जैसी low-quality वेबसिए को link करना हो।
  • Comment सेक्शन में।

ये भी पढ़े: Ads.txt क्या होता है? Ads.txt File कैसे Add करें? इसके क्या फायदे है?

मुझे उम्मीद है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और आपके मन में Dofollow और Nofollow links से जुड़े जितने सवाल होंगे, उनके जवाब आपको मिल गए होंगे। अगर इसके बाद भी आपके मन में कोई सवाल या सुझाव है तो निचे कमेंट जरूर करें। ऐसे ही WordPress, Blogging, SEO और टेक्नोलॉजी से जुड़ी चीज़े सिखने के लिए We Are Hindi पर बने रहे।

7 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *