Ads.txt क्या होता है? Ads.txt File कैसे Add करें? इसके क्या फायदे है?

क्या आप भी अपने वेबसाइट में Ads.txt फाइल Add करने के का सोच रहे हैं? Ads.txt file आपको ad fraud से बचाता है। सिर्फ इतना ही नहीं, यह आपके earning को भी बढ़ाने में मदद करता है। कई Advertisers बिना Ads.txt वाले websites पर अपना Ads नहीं लगाना चाहते। आज मैं आपको बताऊंगा कि Ads.txt क्या होता है, इसे अपने WordPress या किसी भी वेबसाइट पर कैसे Add करें और इसके क्या फायदे है।

Ads.txt क्या है?

Ads.txt एक text file है जिसमे आप आपको उन सभी Advertising network के नाम mention करना होता है जिनको आपने अपनी website पर Ads लगाने का अधिकार दिया है।

उदाहरण के तौर पर मान लीजिए आपने अपनी वेबसाइट पर Google Adsense के Ads लगाए है। इसका मतलब है आपने Google को यह अधिकार दिया है कि वह आपके वेबसाइट के Ad places दूसरे advertisers को बेच सके। इसकी पहल सबसे पहले IAB Tech Labs नामक non-profit संस्थान ने की थी। यह संसथान Digital Advertising Standards को बेहतर बनाने के लिए काम करती है। Ads.txt  को Google Adsense, Doubleclick, Ad Exchange, आदि जैसे कई पॉपुलर advertising platforms सपोर्ट करती है।

Ads.txt क्यों जरुरी है?

Ad fraud से हर साल online advertisers को लाखों रूपए का नुक्सान होता है। बुरे मनसा वाले लोग Ad platforms को धोखा देने के निरंतर प्रयास करते रहते है। इन cases में Ads.txt फाइल advertiser और publisher के बिच transparency (पारदर्शिता) लाता है। अगर आपने अपनी website में Ads.txt फाइल Add कर रखा है, तो कोई भी व्यक्ति आपका वेबसाइट दुसरो को दिखाकर Ad fraud नहीं कर सकता।

इस चीज़ को अच्छे से समझने के लिए मान लीजिए किसी ने आपको कहा कि – आप मुझे इतने रुपये दो, मैं आपके वेबसाइट या प्रोडक्ट का Ad उस पॉपुलर website पर लगा दूंगा। ऐसे में आप सीधे उस website का Ads.txt फाइल ओपन कर चेक कर सकते है कि – उस व्यक्ति या कंपनी को उस popular website पर Ad display करने की अनुमति है, या फिर वह आपसे पैसे लूटने की त्यारी कर रहा है।

आप किसी भी वेबसाइट का Ads.txt फाइल yourwebsite.com/ads.txt url पर जाकर check कर सकते है। यह जानकारी public होती है जिससे Advertiser, publisher, reseller, reader, आदि कोई भी access कर सकता है।

अगर आप अपने वेबसाइट पर Adsense, Doubleclick या Ad Exchange का display ads उपयोग करते है, तो आप Ads.txt फाइल जरूर add करें। हालांकि ऐसा करना अनिवार्य नहीं है, पर इससे वेबसाइट को कई छोटे-बड़े-फायदे होते है।

Ads.txt फाइल कैसे Add करें?

अगर आपकी वेबसाइट WordPress पर बनी है तो आप एक plugin की मदद से बड़े आसानी से Ads.txt फाइल Add कर सकते है। सबसे पहले Ads.txt Manager प्लगिन install कर activate करें। इसके बाद आपको Settings के अंदर Ads.txt का ऑप्शन मिलेगा।

Ads.txt kya hota hai

यहाँ आप line by line सभी Ad Network और Reseller को declare कर सकते है। उदाहरण के लिए आप Google Adsense को इस तरह declare कर सकते है:

google.com, pub-0000000000000000, DIRECT, f08c47fec0942fa0

ऊपर दिए गए लाइन में 4 fields Add किए गए है। पहला कंपनी का नाम, दूसरा आपकी publisher id या account id, तीसरा टाइप – जैसे DIRECT या RESSELER और चौथा Ad Network की unique id। सभी Google Advertising के लिए आप same unique id इस्तेमाल कर सकते है, बस आपको publisher id  बदलना होगा।

अगर आपकी वेबसाइट WordPress पर नहीं है या फिर आप plugin का इस्तेमाल नहीं करना चाहते, तो आप सिंपल Ads.txt file में सभी Ads Network के नाम mention कर website के root directory में अपलोड कर सकते है।

 Adsense के “Earnings At Risk” error को कैसे Fix करें?

कई बार Ads.txt file के अभाव में आपका Adsense अकाउंट कुछ इस तरह का error या warning मैसेज डिस्प्ले करता है:

“Earnings at risk – One or more of your ads.txt files doesn’t contain your AdSense publisher ID. Fix this now to avoid severe impact to your revenue.”

इसका मतलब है आपके वेबसाइट के Ads.txt file में Google Adsense publisher id नहीं declare किया हुआ है, या फिर गलत declare किया हुआ है। इसको fix करना काफी आसान है। अपने WordPress Dashboard -> Settings -> Ads.txt में जाकर सही publisher id डाल दें। कुछ समय के बाद error अपने आप चला जाएगा।

इसके साथ ध्यान रखे की ऊपर बताया हुआ plugin सिर्फ़ root directory में इनस्टॉल किए गए WordPress वेबसाइट के लिए बना है। अगर आपने किसी subdomain (ex – hindi.yourwebsite.com) पर WordPress install किया है तो यह प्लगइन काम नहीं करेगा।

मुझे उम्मीद है आपको यह आर्टिकल पूरी तरह समझ आया होगा, और आप जान गए होंगे कि Ads.txt क्या है? Ads.txt फाइल को Website में कैसे Add करें और इसके क्या फायदे है। किसी भी तरह का सवाल पूछने के लिए निचे comment सेक्शन का जरूर उपयोग करें।

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *